यूपीए के समय पेट्रोल के दाम 50 रुपये था, केंद्र सरकार का दम है तो करके दिखाएं! मंत्री अमरजीत भगत

Spread the love
खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत

बिलासपुर 8 नवम्बर 2021। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री अमरजीत भगत थोड़े समय के लिए सोमवार को बिलासपुर पहुंचे। इस दौरान छत्तीसगढ़ भवन में उन्होंने मीडिया से चर्चा की और पेट्रोल डीजल के दामों को कम करने को लेकर कहा कि जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी, तब पेट्रोल की कीमत 50 रुपये था, तो बीजेपी की केंद्र की सरकार में दम है तो अब 50 रुपये करके दिखाए। मंत्री अमरजीत भगत ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को सोच समझकर बोलने की सलाह दे डाली, सवाल गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के पुलिस अधीक्षक के मरवाही क्षेत्र में हाथियों देखी जाने के दौरान कैजुअल्टी हो जाने पर एफआईआर दर्ज कराने की बात पर प्रतिक्रिया के रूप में दी गई। उन्होंने कहा कि कोई प्रशासनिक अधिकारी अगर अपने काम के दौरान दुर्घटना का शिकार हो जाता है और जीने मरने की स्थिति में रहता है तो ऐसे समय में नेता प्रतिपक्ष को सोच समझकर कहना चाहिए। मंत्री अमरजीत भगत ने इसके साथ ही उसना चावल को केंद्र सरकार द्वारा सेंट्रल में लेने से मना किये जाने पर भी प्रतिक्रिया पर कहा कि हमने अधिकारियों को निर्देशित किया है और हम किसानों का चावल जरूर खरीदेंगे। मंत्री ने कहा 15 सालों में बीजेपी सरकार राज्य में केवल 70 लाख मेट्रिक टन धान खरीद पाती थी। हमारी सरकार ने पहली ही बार 82 लाख मैट्रिक टन से लेकर अब 105 लाख मैट्रिक टन खरीदी का लक्ष्य रखा है। हमारी सरकार किसानों के साथ है। मंत्री अमरजीत भगत ने दावा किया कि हम जितना चावल पीडीएस के माध्यम से लोगों को बांटते हैं, उतना हिंदुस्तान की कोई राज्य की सरकार नहीं बांटती है।भाजपा के साथियों को लोकहित और छत्तीसगढ़ की जनता के हित में सोचना चाहिए। केंद्र की भाजपा सरकार केवल राष्ट्रीय खाद्यान्न योजना के तहत राज्य के 58 लाख लोगों को खाद्यान्न सुरक्षा दे रहे जबकि हमारी सरकार राज्य के 65 लाख लोगों को पहले ही खाद्यान्न सुरक्षा उपलब्ध करा रही है। बीजेपी आधा अधूरा काम करके अपनी पीठ थपथपाना बंद करें।

fieldreport