बीजेपी की संगठन बैठक में हुई सत्तासीन कांग्रेस पार्टी की नाकामयाबियों की चर्चा.. नगरीय निकाय चुनावों के एजेंडे पर नेता प्रतिपक्ष और चुनाव प्रभारी ने बताई रणनीति..

फील्ड रिपोर्ट बिलासपुर। नगरीय निकाय चुनाव के मद्देनजर बीजेपी में बैठकों और रायशुमारियों का दौर शुरू हो गया है। सोमवार को ही बीजेपी के पार्टी कार्यालय में बिलासपुर कार्यसमिति की बैठक रखी गई। जिसमें मंडल संगठन चुनाव, नगरीय निकाय चुनाव एवं संगठनात्मक विषयों को लेकर चर्चा कर आगामी कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया गया। लेकिन बैठक का रुख नगरीय निकाय चुनाव और कांग्रेस सरकार की नीतियों की आलोचना पर बदल गया। इस मौके पर चुनाव प्रभारी अमर अग्रवाल, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, भाजपा जिला संगठन चुनाव प्रभारी छगन मुंदड़ा ने आगामी रणनीति पर चर्चा की।

इस दौरान विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कार्यसमिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार आज पूर्ण रूप से असफल हो चुकी है, 11 माह के कार्यकाल को देखे तो प्रदेश में सारे विकास कार्य ठप हो गए है। प्रदेश की भूपेश सरकार ने विधानसभा चुनाव में जनता से जो वायदे किए थे उसे भूल गई है। सत्ता के सुख में मदहोस सरकार के खिलाफ प्रदेश की जनता में भारी आक्रोश व्याप्त है। नगरीय निकाय चुनाव में हमे पूरी तन्मयता के साथ चुनाव में पार्टी जिसे प्रत्याशी बनाएगी। उसको हमें भारी मतों से जिताना है तथा प्रदेश सरकार के क्रिया कलापों को एवं सरकार की गलत नीतियों को जन-जन तक पहुॅचाना है। हमारी सरकार 15 वर्ष तक सत्ता में भी थी इस दौरान प्रदेश को विकास के शिखर पर ले जाने में हमारी सरकार पूर्ण रूप से सफल रही, गांव, गरीब, किसान, युवाओं, महिलाओं सभी वर्ग के लोगों के उत्थान की दिशा में भाजपा सरकार ने कार्य किया था, जिसे देश की अनेक राज्यों की सरकार ने भी हमारी सरकार की योजना को लागू की है।

कौशिक ने प्रदेश की भूपेश सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि प्रतिदिन सरकार सिर्फ शराब से करोड़ों रूपए की अवैध वसूली कर भ्रष्टाचार कर रही है तथा अवैध उत्खनन के द्वारा कांग्रेस के नेता बंदरबांट में लगे हुए है। श्री कौशिक ने कहा कि आगामी 30 अक्टूबर से जिले में भाजपा के मंडल संगठन चुनाव होने है जिसमें हमें सर्वसम्मति से पार्टी के सक्रीय कार्यकर्ता को पदाधिकारी बनाना है जो पार्टी संगठन के प्रति पूरी निष्ठ से कार्य कर सके।
भाजपा के वरिष्ठ नेता व प्रदेश नगरीय निकाय चुनाव प्रभारी पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि अब लगातार संगठन के लिए काम करना है। अब मंडल चुनाव जो 30 अक्टूबर से प्रारंभ होकर जिले के प्रत्येक मंडलों में चुनाव सर्वसम्मति से कराना है तथा उसके बाद नगरीय निकाय के चुनाव सामने है उसके बाद पंचायतों के चुनाव होंगे। हमें पूरी मुस्तैदी के साथ पार्टी संगठन के चुनाव के साथ नगरीय निकाय चुनाव में जिसमें नगर पंचायत नगर पालिका एवं नगर निगम पार्षदों के चुनाव होंगे।

पार्षद प्रत्याशी चुनाव के लिए नगर पंचायत स्तर पर पार्षद प्रत्याशी के लिए जिले के पर्यवेक्षक होंगे। नगर पालिका एवं नगर निगम में पार्षद प्रत्याशी के लिए संभाग से संगठन द्वारा बनाए गए पर्यवेक्षक के द्वारा प्रत्याशी आम सहमति से तय किए जायेंगे। श्री अग्रवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार नित नए-नए हथकंडे अपनाकर नगरीय निकाय चुनाव जीतना चाहती है, लेकिन प्रदेश की जनता जिस प्रकार लोकसभा चुनाव में प्रदेश की कांग्रेस सरकार को पटकनी दी है उसी तरह नगरीय निकाय चुनाव में क्षेत्र एवं प्रदेश की जनता सबक सिखाने तैयार बैठी है। भाजपा प्रत्याशियों को अधिक से अधिक संख्या में जीताकर लाना है। कांग्रेस सरकार ने गुप्त सर्वे कराया था नगरीय निकाय चुनाव को लेकर लेकिन रिपोर्ट आने के बाद प्रदेश सरकार के नीचे से जमीन खिसक गई क्योंकि प्रदेश में बहुत बुरी हार होने वाली है। कांग्रेस इसलिए ईव्हीएम मशीन से चुनाव न कराकर बैलेट पेपर से चुनाव कराकर षड़यंत्र रचना चाहती है। महापौर तथा अध्यक्ष का चुनाव पार्षदों के द्वारा किए जाने के फैसले से समझ आ चुका है कि प्रदेश सरकार डरी हुई है।


भाजपा जिला संगठन चुनाव प्रभारी छगन मुंदड़ा ने कहा कि सदस्यता को लेकर जो लक्ष्य भाजपा संगठन द्वारा दिया गया था उसमें बिलासपुर संगठन पूर्ण रूप् से सफल रहा है इसके लिए सभी भाजपा कार्यकर्ताओं को बधाई दी।
बैठक की शुरूवात भारत माता, डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पं.दीनदयाल उपध्याय के छायाचित्र पर माल्यार्पण एवं दीपप्रज्वलित की गई। बैठक का संचालन भाजपा जिला महामंत्री घनश्याम कौशिक ने किया व आभार भाजपा जिला उपाध्यक्ष कृष्णकुमार कौशिक ने किया। बैठक में प्रमुख रूप से भाजपा जिलाध्यक्ष रजनीश सिंह, लखनलाल साहू पूर्व सांसद, किशोर राय महापौर, पूजा विधानी महिला मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष, भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य राजा पाण्डेय, भाजपा जिला महामंत्री रामदेव कुमावत, घनश्याम कौशिक, गुलशन ऋषि, अशोक विधानी, बबलू सैफुद्दीन, सतीश गुप्ता, धीरेन्द्र केशरवानी, सुब्रत दत्ता, सहदेव कश्यप, आलेख, अनिल पाण्डेय, रामदुलार कौशले, बांकेबिहारी गुप्ता, कन्हैया यादव, राकेश दीक्षित, शिवमान सिंह खुसरो, सुखीराम कौशिक, शैलेन्द्र सिंह, रवि मेहर, त्रेतानाथ पाण्डेय, दिनेश पाण्डेय सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related posts