उच्च न्यायालय अधिवक्ता संघ के चौथी बार अध्यक्ष बने सीके केसरवानी, युवा अधिवक्ताओं को मिली जगह

फील्ड रिपोर्ट बिलासपुर। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय अधिवक्ता संघ के चुनाव में मतदाताओं ने सीके केशरवानी को चौथी बार अध्यक्ष चुना है। उपाध्यक्ष उमाकांत चंदेल और ग्रंथालय सचिव अरविंद दुबे चुने गए। वहीं राकेश मोहन पांडेय को सचिव की जिम्मेदारी दी है। संघ में युवा अधिवक्ता को भी जगह मिली है। कार्यकारिणी सदस्य के रूप में सबसे कम उम्र के युवा अधिवक्ता अच्युत तिवारी, विवेक सिंघल, आशुतोष शुक्ला को चुना गया। वहीं तीसरी बार अभिषेक पांडेय को कार्यकारिणी सदस्य चुना गया है।

उल्‍लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय अधिवक्ता संघ का दो वर्ष का कार्यकाल पूरा होने के बाद नए चुनाव की घोषणा की गई थी। छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय अधिवक्ता संघ चुनाव के लिए मतदाता सूची को लेकर विवाद के बीच सोमवार की सुबह 10 बजे से मतदान हुआ।

इस दौरान 636 मतदाताओं ने मतदान किया। बुधवार की सुबह 10 बजे निचले क्रम से मतगणना शुरू की गई। मताें की गणना के बाद निर्वाचन अधिकारी ने पूर्व अध्यक्ष सीके केशरवानी को अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किया। इसी प्रकार मतदाताओं ने 5 बार के सचिव अब्दुल वहाब के स्थान पर राकेश मोहन पांडेय पर अपना विश्वास जताया। इसके अलावा ग्रंथालय सचिव अरविंद दुबे, सह सचिव वरुणेंद्र मिश्रा निर्वाचित हुए। वहीं जितेन्द्र गुप्ता, अजय चंद्रा व चंद्रप्रकाश लहरे कार्यकारिणी सदस्य निर्वाचित हुए हैं।

वही कोषाध्यक्ष पद पर 3 प्रत्त्याशियों ने अपना भाग्य आज़माया था, पर 2 प्रत्याशियों को सामान वोट प्राप्त हुए। जिसके बाद दुबारा मतों की गणना की गई, जिसमें एक वोट से अनिल त्रिपाठी विजयी हुए। जीत के बाद विजयी पदाधिकारियों को वरिष्ठ अधिवक्ताओं और सदस्‍यों ने बधाई दी।

Related posts