बदलापुर के निर्माता निर्देशक ने स्क्रिप्ट में मेहनत कम कर लिखी घिसी पिटी कहानी, बॉक्स ऑफ़िस में हो जाएगी फ्लॉप : विक्रांत तिवारी

बिलासपुर। अंतागढ़ उपचुनाव मामले से प्रदेश की राजनीति हर समय उबाल मार जाती है। इस बार मंतूराम पंवार ने बीजेपी और क्षेत्रीय पार्टी जनता कांग्रेस के कद्दावर नेताओं पर गंभीर आरोप लगाकर सनसनी फैला दी है। शनिवार को जारी बयान और एक शपथ पत्र ने फ़िर राजनीती के गलियारों में बहस छेड़ दी है।

शपथपत्र अंतागढ़ काण्ड के मुख्य आरोपी कहे जाने वाले मन्तूराम पवार ने दिया है। इसमें अंतागढ़ उपचुनाव मामले में करोड़ों रुपयों के लेनदेन का आरोप लगाया गया है। इसमें जनता कांग्रेस पार्टी के नेताओं का नाम शामिल किया गया है। जिसे कोरी कहानी बताते हुए जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के कार्यकारी जिलाध्यक्ष और प्रवक्ता विक्रांत तिवारी ने कहा कि मन्तूराम पवार का झूठा बयान है। इसे सत्य होने का कोई आधार नही प्रतीत हो रहा। बल्कि सत्ता का दबाव और मंशा स्पष्ट दिख रही है।

विक्रांत ने कहा कि पूरे बयान में सबसे अविश्वसनीय बात है कि प्रदेश के दो सबसे कद्दावर नेताओं ने भूपेश बघेल जैसे पद में बड़े और अपनी बचकानी हरकतों के कारण कद में छोटे नेता को केवल नीचा दिखाने के लिए मंतूराम पवार को तथाकथित रूप से जान से मारने की धमकी, सात करोड़ रुपये की भारी भरकम रिश्वत और झीरम घाटी नरसंहार में खुद की संलिप्तता का खुलासा भी कर डाला है! युवा नेता विक्रांत ने कहा कि इस पूरे घटनाक्रम में बदलापुर के निर्माता निर्देशक सीडी वाले बाबा और उनके स्क्रिप्ट राईटरों ने घिसी पिटी कहानी ही सामने रख दी है।

Related posts