हरेली के सरकारी कार्यक्रम में बेजुबान जानवरों से हुई अमानवीयता..! पानी तक के लिये तरसे मवेशी… मंच से सीएम भूपेश ने कहा सरकार कर रही पानी से लेकर छाया तक की व्यवस्था

*बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ड्रीम प्रोजेक्ट “नरवा गरवा घुरवा और बारी” की चर्चा पूरे प्रदेश में है। लेकिन इसके लिए बेजुबान जानवरों को पूरे दिन भूखे प्यासे रखा जाना किसी भी तरह मानवीय नहीं माना जा सकता।* सरकारी कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए महकमे के लोग इन जानवरों को आयोजन स्थल तक लाया और भूखे प्यासे रख उनका प्रदर्शन कराया। जनपद अधिकारी, पशुपालन और अन्य विभागों ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए बेजुबान जानवरो का डेमोंस्ट्रेट किया जाता है । लेकिन इनके लिए ना तो…

पूरी ख़बर के लिए यहाँ क्लिक करें

छत्तीसगढ़ में बनी छत्तीसगढ़िया सरकार: सीएम भूपेश पिछली सरकार में गौशाला के नाम पर कुछ लोगों ने डकारे करोड़ों

*बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के त्यौहार और परंपराओं को विशेष पहचान दिलाने सरकार ने नवाचार किया है। छत्तीसगढ़िया संस्कृति को ध्यान में रखा गया है और इसी कारण पहली बार हरेली पर्व में अवकाश घोषित किया गया, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में हरेली पर्व को पारंपरिक तरीके से मनाया जा सके।* गुरुवार को उक्त बातें प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने तखतपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत नेवरा के गौठान लोकार्पण के अवसर पर कहीं। इस दौरान सीएम बघेल ने भौंरा घुमाया और गेड़ी पर भी चले। श्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़…

पूरी ख़बर के लिए यहाँ क्लिक करें