नक्सली कहते हैं अपनी सरकार आयी: नेता प्रतिपक्ष कौशिक कौशिक के नक्सलियों से संबंध है इसलिए उनकी बात कर रहे हैं: गृह मंत्री ताम्रध्वज

बिलासपुर।। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने राज्य सरकार पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाये हैं। इनकी माने तो अब नक्सलियों की हिम्मत इतनी बढ़ गई है कि, वे दबी जुबान पर कहते हैं कि अब तो उनकी ही सरकार है । मौजूदा कांग्रेसी सरकार में नक्सलियों के हौसले पहले से ज्यादा बुलंद हुए हैं। प्रदेश में नक्सली गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है और सरकार की नीति स्पष्ट नहीं है। दूसरी तरफ भीमा मंडावी की मौत और उस मामले को लेकर हो रही पुलिसिया जांच पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। अब इस पर भी राजनीति और गरमाने लगी है। इन सबके बीच प्रदेश के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने पलटवार करते हुए कहा कि धरमलाल कौशिक के बयान से स्पष्ट है कि उनका नक्सलियों से संबंध है, इसलिए वो उनकी बात कर रहे हैं और इसलिए बीते 15 सालों में नक्सल उन्मूलन के लिये उन्होंने कुछ भी नहीं किया। गृहमंत्री ने कहा कि हमने बीते 3 महीनों का अपराध का आंकड़ा पेश कर यह बताया है कि पहले और आज में कितना फर्क है। उन्होंने कहा है कि विधायक ही नहीं आम व्यक्तियों की सुरक्षा बेहद जरूरी है। रही बात भीमा मंडावी की मौत और उस पर कांग्रेस सरकार की लापरवाही की तो, यह सब जानते हैं कि किस तरह से मंडावी ने अपने फॉलो गार्ड और दूसरी सुरक्षा लेने से खुद इंकार किया था। गौरतलब है कि इससे पहले मोदी मंत्रिमंडल में केंद्रीय राज्य मंत्री का दर्जा पाने वाली रेणुका ने भी राज्य की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाते हुए यह कहा था कि सरकार उसे दूसरा भीमा मंडावी बनाना चाहती। भीमा मंडावी की मौत के बाद जो राजनीति हो रही है उसे देखते हुए यह साफ हो जाता है कि आने वाले दिनों में इस विषय को लेकर सियासी पारा और चढ़ेगा। अब देखना होगा की बीजेपी शासन में कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की हत्या के बाद बीजेपी अपने नेता भीमा मंडावी के मामले में सत्तासीन कांग्रेस सरकार को किस तरह घेरती है और कांग्रेस भी अपने नेताओं को खोने के बाद नक्सली मामले के नासूर को कब तक खत्म करने की ठोस कदम उठाती है।

Related posts

Leave a Comment