बिलासपुर के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में पैसे वसूली की शिकायत लिखित में।

सिम्स के कर्मचारियों पर मरीजों से पैसे वसूलने का आरोप, मामले में लीपापोती करने में जुटा प्रबंधन

बिलासपुर । जिला अस्पताल के बाद अब सिम्स के कर्मचारियों पर मरीजों से अवैध पैसे वसूलने का संगीन आरोप लगा है। इस पर प्रबंधन अनभिज्ञता जताते हुए दोषी पर कार्रवाई की बात कही है। लेकिन जिला अस्पताल में डॉक्टर पर आरोप के बाद सिम्स में उजागर हुए इस मामले पर मरीजों की समस्या को बढ़ा दिया है। जाहिर सी बात है कि सिम्स में अधिकांश वे ही मरीज आते हैं जो आर्थिक रूप से सक्षम नहीं है। लेकिन हैरानी की बात है कि ऐसे मरीजों से भी उगाही करने में अस्पताल के स्टाफ गुरेज नहीं करता। दरअसल चकरभाठा अचानक पुर निवासी सेवती गोस्वामी ने लिखित में आरोप लगाया है कि उनके पति तुकेश्वर गोस्वामी पिछले 3 दिनों से सिम्स के बर्न वार्ड में भर्ती हैं। पति की ड्रेसिंग के लिए वार्ड बॉय भरत लाल रोज 50 रुपये ले रहा है। वहीं नर्स अंजू साहू लगातार तीन दिनों से रोज सौ रुपए वसूल रही है। इस बारे में जानकारी के बाद सेवती गोस्वामी ने कांग्रेस युवा नेता मोनू आशीष अवस्थी को इसकी जानकारी दी। जिन्होंने अस्पताल पहुंचकर नर्स से पूछताछ की तो पहले तो नर्स ने आरोपों से साफ इंकार कर दिया। मामले से व्यथित सेवती गोस्वामी ने सिम्स अधीक्षक पी के पात्रा को लिखित में शिकायत की है।शिकायत में ऐसे कर्मचारियों पर तत्काल कार्रवाई की बात कही है। जिससे आरोपित स्टाफ अन्य मरीजों के परिजनों के साथ ऐसी अवैध वसूली दोबारा ना कर सके। सिम्स प्रबंधन ने मामले को गंभीरता से लेते हुए आरोपी स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है।

123

Related posts