बिलासपुर हाईकोर्ट के इतिहास में पहली बार, रेप पीड़िता ने की खुद मामले की पैरवी।, कोर्ट ने दिया एसपी और थाना प्रभारी सहित विवेचक को नोटिस, अगली सुनवाई 17 मई को होगी।

Spread the love

0 रेप पीड़िता ने खुद की हाई कोर्ट में अपनी पैरवी।

0 पश्चिम बंगाल की लड़की ने wpcr दाखिल किया था।

0 कोर्ट नंबर 5 में न्यायाधीश संजय के अग्रवाल ने मामले की सुनवाई की।

0 कोर्ट ने एसपी अभिषेक मीणा को नोटिस जारी किया।

 

0 एसपी को शपथ पत्र के साथ देना होगा जवाब।

0 कोर्ट ने पूछा एफआईआर के बाद अब तक गिरफ्तारी क्यो नही हुई।

0 अगली सुनवाई 17 मई को होगी सुनवाई।

0 कोर्ट ने आरोपी शुभम लालवानी और अनीश खान की गिरफ्तारी के आदेश दिया है।

0 सरकंडा थाना प्रभारी और विवेचना अधिकारी मनोरमा तिवारी की भी शिकायत की गई।

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाई कोर्ट के इतिहास में पहली बार हुआ है जब एक रेप पीड़िता ने खुद अपने मामले की पैरवी की है। पीड़िता ने सबसे पहले हाई कोर्ट में रिट पिटीशन क्रिमिनल दाखिल किया और फिर पैसे के कमी के कारण वकील की जगह खुद पैरवी करने का निर्णय लिया। मामले में पहले सुनवाई 14 मई को कोर्ट नंबर 5 में न्यायधीश संजय के अग्रवाल के सामने हुई। इस मामले में कोर्ट ने पूरी सुनवाई के बिलासपुर एस पी को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने पूछा है कि, एफआईआर के बाद अब तक आरोपियों की गिरफ्तारी क्यो नही हुई है। कोर्ट ने इस संबंध में एसपी ने को शपथ पत्र में जवाब मांगा है। रेप पीड़िता ने इस मामले में मीडिया से चर्चा करते हुये बताया कि, मामले की अगली सुनवाई 17 मई को होगी। पीड़िता ने इस मामले में मुख्य आरोपी शुभम लालवानी और उसके सहयोगी अनीश खान की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। गौरतलब है इस इस पूरे मामले में सरकंडा थाना प्रभारी और विवेचना अधिकारी से भी जवाब तलब की गई है।

 

Related posts