राबर्ट वाड्रा को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मंगलवार को पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय ने दोबारा समन भेजा था

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी के पति राबर्ट वाड्रा को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मंगलवार को पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय ने दोबारा समन भेजा था। लेकिन बीमार होने के कारण ईडी के सामने पेश नहीं हो सके। हालांकि, वाड्रा मंगलवार सुबह जांच में शामिल होने वाले थे। उनके वकीलों ने ईडी के अधिकारियों को सूचित किया कि वह अस्वस्थ हैं और जब भी उन्हें फिर से बुलाया जाएगा, वे हाजिर होंगे। इससे पहले 16 फरवरी को दिल्ली की एक अदालत ने वाड्रा की अंतरिम जमानत को 2 मार्च तक बढ़ा दिया था।

Robert Vadra

ईडी रॉबर्ट वाड्रा से लंदन में स्थित संपत्ति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ कर रही है। वाड्रा के वकील केटीएस तुल्सी ने कहा, ‘रॉबर्ट वाड्रा आज सुनवाई के लिए पेश नहीं हो पाए जिसके लिए ईडी ने उन्हें समन भेजा था। क्योंकि उन्हें बीती रात से फूड पॉइजनिंग हो गई है। जिसके कारण उन्हें मतली और दस्त हो गए हैं।’ ईडी ने अब उन्हें समन भेजकर बुधवार को पेश होने के लिए कहा है।

बता दें कि ईडी इस मामले में रॉबर्ट वाड्रा से कई दिनों से पूछताछ कर रही है। फरवरी के शुरुआती हफ्ते में तीन दिन 6 फरवरी, 7 और 9 फरवरी को 24 घंटे से ज्यादा समय के लिए रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ की गई थी। केवल लंदन स्थित संपत्ति ही नहीं बल्कि रॉबर्ट वाड्रा से जयपुर और बिकानेर जमीन सौदे से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में भी रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ की जा चुकी है। यहीं नहीं ईडी ने रॉबर्ट वाड्रा की मां को बुलाकर भी पूछताछ की थी।

इससे पहले ईडी ने शुक्रवार को 4.43 करोड़ रुपये की दिल्ली स्थित वाड्रा के सुखदेव विहार के घर को अटैच किया है। यह घर वाड्रा की कंपनी स्काई लाइट हॉस्पिटैलिटी प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर था। वही 2 फरवरी को, अदालत ने 16 फरवरी तक वाड्रा को अंतरिम जमानत दी थी। उन्हें 6 फरवरी को जांच में शामिल होने के लिए कहा था। फिलहाल जांच एजेंसी का कहना है कि आयकर विभाग फरार हथियार कारोबारी संजय भंडारी के खिलाफ काला धन कानून और कर कानून के तहत दर्ज मामलों की जांच के दौरान यह बात सामने आई थी कि उसके संबंध वाड्रा के करीबी मनोज अरोड़ा के साथ हैं।

Related posts