रक्षा टीम करेगी महिलाओं की रक्षा। 20 अलग अलग थानों में मौजूद है टीम।

  1.  बिलासपुर शहर में महिलाओं और बालिकाओं की रक्षा करने के लिए पुलिस ने एक अनोखी पहल की है। पुलिस ने एक “रक्षा दल” तैयार किया है । जिसका काम बालिका और महिलाओं की रक्षा करना है। साथ ही शहर में कानून व्यवस्था को बनाए रखना होगा। पुलिस की इस पहल को लोगों ने खूब सराहा है वहीं पुलिस कप्तान अभिषेक मीणा ने खुद व्यक्तिगत रूप से इस टीम की मॉनिटरिंग करने की जिम्मेदारी लिए ली है।

बिलासपुर पुलिस के कप्तान अभिषेख मीना के द्वारा जिले के समस्त पुलिस थानो में थाना स्तर पर रक्षा टीम का गठन किया गया है। एसपी व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अर्चना झा द्वारा आज सभी टीम के सदस्यों की मीटिंग लेकर उन्हें ब्रीफ़ किया गया। किसी मुसीबत के समय जरूरत पड़ने पर टीम किस तरह से काम करेगी और ज्यादा गंभीर स्थिति में किस तरह से मदद है मंगाई जाएगी…? इस तरह के विषय को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। बिलासपुर के पुलिस ने कहा रक्षा टीम का उद्देश्य क्षेत्र की सभी बालिकाओं व महिलाओं में सुरक्षा की भावना उत्पन्न करने के साथ उन्हें सुरक्षित रखना होगा।इसके लिए जिले के 20 थानों में रक्षा प्रभारी और एक महिला स्टाफ की नियुक्ति की जाएगी। कालेज स्कूलों और वे संस्थानओ में महिलाओं को जागरूक करने के साथ ही उन्हें अपने व थाना प्रभारी के मोबाइल मोबाइल नंबर शेयर करेंगी, ताकि आवश्यकता पड़ने पर वो फोन करके रक्षा टीम की मदद ले सकें।महिलाओ की सुरक्षा के मद्देनजर टीम उनके लिए सदैव मुस्तेद व सजग रहेगी। पेट्रोलिंग के लिए टीम को गाड़िया दी गई है ताकि किसी भी आपातकालीन स्तिथि में वे घटनास्थल पर तत्काल पहुंच सके।और इस टीम की कप्तान पुलिस अधीक्षक की निगरानी के रहेगी और वे खुद ही समय समय पर टीम द्वारा किये गए कार्यो की समीक्षा करेंगे।

Related posts