राहुल के आचरण से प्रकट हो रहे आज की कांग्रेस के सिध्दांत  ऐतिहासिक पार्टी को इतिहास में दफन करने आमादा: भाजपा

Spread the love
रायपुर। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्रीचंद सुन्दरानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आंख मारो क्रिया पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष का मंदिर जाना और तामझाम वाले रोड शो के दौरान किसी स्टाल पर रुककर चाय पीना किसी पाखंड से कम नहीं है। वे किसी गरीब की छोटी सी चाय दुकान पर इसलिए नहीं जाते कि उन्हें सामान्य व्यक्ति की तरह चाय पीने का शौक है। बल्कि वे इस बहाने भी महज राजनीति ही कर रहे हैं।
उनके प्रचार प्रबंधक उनके राजनीतिक विलास का प्रबंध करते हैं और वे ऐसे करतब दिखाने के बाद आंख मारकर यह इशारा कर देते हैं कि अच्छी एक्टिंग की न! इसी तरह वे मंदिर में इसलिए माथा नहीं नवाते कि उन्हें सनातन धर्म के प्रति आस्था है। बल्कि वे दिखावा करने जाते हैं। कांग्रेस के इस शिखर परिवार का तो समूचा इतिहास ही सनातन धर्म के विरूध्द आचरण से भरा रहा है।
भाजपा प्रवक्ता श्रीचंद सुन्दरानी ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष संसद से लेकर सड़क तक ‘आंख मारो अभियान‘ चलाकर आखिर क्या संदेश देना चाहते हैं? उन्होंने कहा कि एक ऐतिहासिक पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष अपनी गतिविधियों के जरिये समूची पार्टी को इतिहास के पन्नों में दफन करने आमादा है तो हमें उन कांग्रेसजनों से हमदर्दी है जो अब तक गांधी जी के सिध्दांत के नाम पर कांग्रेस की दीवारों से चिपके हुए हैं। ऐसे कांग्रेसजनों से आग्रह है कि वे यह महसूस करें कि कांग्रेस में गांधीवाद तो उनके साथ ही चला गया। बल्कि उनके सामने ही उनके सिध्दातों को दरकिनार कर दिया गया था। आज कांग्रेस के असल सिध्दांत उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष के आंख मारने जैसे आचरण के जरिये साफ दिखाई पड़ रहे हैं।

Related posts