पटेल विकास यात्रा में प्रभावी हुए मुख्यमंत्री। मंत्रियों और विधायकों ने भी दिखाई गर्मजोशी

बिलासपुर। कोटगांव मकड़ी।। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के याद में छत्तीसगढ़ में चल रहे होटल विकास यात्रा अब अपने अंतिम चरण में है इसी कड़ी में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने विकास यात्रा में शामिल होते हुए प्रदेश के कोने कोने में पहुंचकर विकास की बात कही है मुख्यमंत्री ने साफ किया कि छत्तीसगढ़ में विकास तेजी से हो रहा है और यही कारण है कि इस विकास के कारण छत्तीसगढ़ का स्वरूप भी उतनी ही तेजी से बदल रहा है विकास यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री और उनके मंत्रियों विधायक और जनप्रतिनिधि अपनी और अपनी पार्टी की बात बड़ी प्रभावी ढंग से आम जनता तक पहुंचाने की पुरजोर कोशिश करते हैं। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश व्यापी अटल विकास यात्रा के दौरान कोण्डागांव जिले के माकड़ी में आयोजित विशाल आमसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिला बनने के बाद कोण्डागांव की तस्वीर तेजी से बदल रही है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत जिले में एक हजार किलोमीटर सड़क का निर्माण हो रहा है। केशकाल से लेकर कोण्डागांव तक राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण पूर्ण हो चुका है और कोण्डागांव से माकड़ी तक सड़क चौड़ीकरण के लिए शीघ्र स्वीकृति दे दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने आम सभा में माकड़़ी में महाविद्यालय खोलने, उदयपुर पहाड़ में सीढ़ी निर्माण के लिए 15 लाख रूपये और पोस्टमार्टम गृह निर्माण की स्वीकृति और माकड़ी में बस स्टैंड के लिए 20 लाख रूपए की स्वीकृति की घोषणा की। इस अवसर पर सांसद श्री दिनेश कश्यप, नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष लता उसेंडी, श्री श्याम बैस, सहित जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री के माकड़ी पहुंचने पर ग्रामीणों ने उत्साह के साथ भव्य स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने आमसभा में लगभग 144 करोड़ रूपए की लागत के 52 कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन और शिलान्यास किया। इनमें 58 करोड़ रूपए की लागत के 28 कार्यों का लोकार्पण और लगभग 86 करोड़ रूपए की लागत के 24 कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास शामिल हैं। डॉ. सिंह ने इस अवसर पर कोण्डागांव जिले के सुप्रसिद्ध शिल्प गुरू श्री जयदेव बघेल और श्री सहदेव राणा को भी याद किया। उन्होंने कहा कि इस जिले की शिल्प कला ने देश और दुनिया में अपनी पहचान बनाई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब कोड़ागांव तेजी से बदल रहा है। प्रयास विद्यालय के बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर बन रहे हैं। कोण्डागांव की महिलाएं स्वावलंबन की राह पर तेजी से आगे बढ़ रही है। यहां की महिलाएं एलईडी बल्ब और कांच की चूड़िया बना रही है। घरों में माकड़ी में बने एलईडी बल्ब से रोशनी फैलेगी।

मैं इस विकास यात्रा को जनता-जनार्दन के आशीर्वाद और विश्वास की यात्रा मानता हूूं। यह मेरे लिए एक तीर्थयात्रा के समान है। उन्होंने कहा कि गांव, गरीब और किसान के जीवन में बेहतर बदलाव के लिए सरकार काम कर रही है। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत आने वाले दो महीने में हर गांव में बिजली पहुंच जाएगी और हर घर में बिजली कनेक्शन दिए जाएंगे। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना में कोण्डागांव जिले में 71 हजार बहनों को रसोई गैस कनेक्शन मिल गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2022 तक सभी के पक्के मकान होंगे। प्रदेश में तेन्दूपत्ता संग्राहकों को 750 करोड़ की बोनस राशि वितरित कर रहे हैं जो उनके खातों में जमा हो जाएगी। संचार क्रांति योजना में आने वाले दो महीने में 40 लाख महिलाओं को निःशुल्क स्मार्ट फोन मिल जाएगा।

Related posts